Latest Posts

IND vs AUS: पिछली पांच में से तीन टेस्ट सीरीज में भारतीयों का रहा दबदबा, अश्विन-जडेजा और पुजारा बने थे हीरो

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच नौ फरवरी से चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी। इसे बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी सीरीज भी कहते हैं। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के लिहाज से यह सीरीज टीम इंडिया के लिए काफी महत्वपूर्ण है। भारतीय टीम को अगर WTC के फाइनल में पहुंचना है तो यह सीरीज जीतनी होगी। टीम इंडिया को कम से कम दो टेस्ट जीतने होंगे।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पॉइंट्स टेबल में भारत फिलहाल दूसरे नंबर पर है। वहीं, ऑस्ट्रेलियाई टीम शीर्ष पर है। ऑस्ट्रेलिया का फाइनल में पहुंचना लगभग तय माना जा रहा है। वहीं, दूसरे स्थान के लिए भारत समेत दो-तीन टीमों में टक्कर है। शीर्ष दो पर रहने वाली टीमें जून में फाइनल खेलेंगी।

 

ऑस्ट्रेलिया ने भारत में 2017 में जीता था पिछला टेस्ट

- Advertisement -

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया
– फोटो : सोशल मीडिया

ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत दौरे के लिए काफी तैयारी कर रही है। टीम स्पिन पिच बनाकर प्रैक्टिस कर रही है। ऑस्ट्रेलिया की टीम पिछले कुछ समय से शानदार फॉर्म में रही है। एक जनवरी 2022 के बाद से ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 12 टेस्ट खेले हैं। इनमें से सात में जीत हासिल की है। ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका और पाकिस्तान को उनके घर में भी हराया है। वहीं, टीम इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका को भी हरा चुकी है। हालांकि, भारत दौरे पर ऑस्ट्रेलियाई टीम 2017 के बाद कोई टेस्ट नहीं जीत सकी है। 2017 में पुणे में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रन से हराया था।

पिछली पांच सीरीज में भारत का रहा दबदबा

दोनों के बीच खेली गई पिछली पांच टेस्ट सीरीज में से चार सीरीज भारतीय टीम ने जीती है। ऑस्ट्रेलिया ने पिछली बार 2014/15 में टीम इंडिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीती थी। इसके बाद 2017, 2018/19 और 2020/21 में भारत ने टेस्ट सीरीज पर कब्जा जमाया। सिर्फ टीम इंडिया ही नहीं भारतीय खिलाड़ियों का भी इन सीरीज में जलवा रहा है। पिछली पांच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में से तीन बार भारतीय खिलाड़ियों ने प्लेयर ऑफ द सीरीज अवॉर्ड जीता है। 

प्लेयर ऑफ द सीरीज अवॉर्ड में भारत का दबदबा

2013 में ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे पर (4 टेस्ट) रविचंद्रन अश्विन प्लेयर ऑफ द सीरीज रहे थे। उन्होंने इस सीरीज में गेंद से कहर बरपाते हुए चार मैचों में 29 विकेट झटके थे। भारत ने यह सीरीज 4-0 से अपने नाम की थी। इसके बाद 2014/15 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गई थी। यह वही सीरीज है जिसमें महेंद्र सिंह धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। ऑस्ट्रेलिया ने इस बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में भारत को 2-0 से हराया था। स्टीव स्मिथ को प्लेयर ऑफ द सीरीज अवॉर्ड दिया गया था। वह चार मैचों में 769 रन के साथ सीरीज के टॉप स्कोरर रहे थे।

पुजारा और जडेजा भी रहे प्लेयर ऑफ द सीरीज

जडेजा और पुजारा
– फोटो : सोशल मीडिया

2017 में ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत दौरे पर आई थी। चार टेस्ट की इस सीरीज को भारत ने 2-1 से अपने नाम किया था। रवींद्र जडेजा को प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया था। उन्होंने सीरीज में सबसे ज्यादा 25 विकेट लेने के अलावा 127 रन भी बनाए थे। 2018/19 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चेतेश्वर पुजारा प्लेयर ऑफ द सीरीज रहे थे। इस दौरान सीरीज को टीम इंडिया ने 2-1 से अपने नाम किया था। पुजारा 521 रन के साथ सीरीज के टॉप स्कोरर रहे थे। इनमें तीन शतक शामिल है। 2020/21 में भी भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी। 

नौ फरवरी से नागपुर में खेला जाएगा पहला टेस्ट

इस सीरीज का पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने जबरदस्त वापसी की थी। भारत ने सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। हालांकि, प्लेयर ऑफ द सीरीज अवॉर्ड आश्चर्यजनक रूप से तेज गेंदबाज पैट कमिंस को दिया गया था। कमिंस ने इस सीरीज में चार मैचों में सबसे ज्यादा 21 विकेट लिए थे। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि इस साल कौन प्लेयर ऑफ द सीरीज बनता है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट नागपुर, दूसरा दिल्ली, तीसरा धर्मशाला और चौथा टेस्ट अहमदाबाद में खेला जाएगा। 

विज्ञापन

Latest Posts

Don't Miss